भारत में पशु-सुरक्षा जनहित याचिका प्रतियोगिता संपन्न। ये रहे विजेता।
नेशनल लॉ स्कूल ऑफ इंडिया युनिवर्सिटी के सोसायटी फ़ोर नॉ-ह्युमन पर्सन्स और ह्युमन सोसायटी इंटरनेशनल द्वारा मर्सी फ़ोर एनिमल के सहयोग से 13 अप्रैल से 15 अप्रैल 2018 तक द्वितीय एनएलएसआईयू पशु-सुरक्षा जनहित याचिका प्रतियोगिता आयोजित की गयी।

पहली प्रतियोगिता जनवरी 2017 में आयोजित की गयी थी जिसकी प्रशंसा स्वयं एक उत्साही पशु अधिकार कार्यकर्त्ता एवं भारत की केन्द्रीय मंत्री मेनका गाँधी ने किया था। भारत भर में पशु कल्याण कानून एवं संवैधानिक नियमों से संबंधित प्रतिभा विकसित करने के उद्देश्य से आयोजित इस प्रतियोगिता में मौखिक और लिखित राउन्ड्स शामिल थे।


हर टीम ने भारत में वर्तमान पशु अधिकार एवं कल्याण के मुद्दों से संबंधित जनहित याचिका का ड्राफ़्ट ज्ञापन दिया। फिर टीमों ने अपने-अपने मुकदमों को राज पंजवानी, गौरी मौलेखी और जस्टिस अंजना मिश्रा जैसे माननीय जजों के पैनल के समक्ष प्रस्तुत किया।

पुणे के सिम्बायोसिस लॉ स्कूल के विजेता छात्रों में शामिल थे प्रियंका प्रशांत, प्रतुष चौधरी और शशांक उपाध्याय। उनका विषय फ़ैक्ट्री-फ़ार्मिंग पर केन्द्रित था जिसमें उन्होंने बलपूर्वक गर्भाधान, दुग्ध-दोहन विधि, और अनाथ गायों की दुर्दशा पर बल देते हुए डेयरी उद्योग में गायों की दयनीय स्थिति को रेखांकित किया।


पशु-अधिकारों के प्रति उत्साही विधि-छात्रों के लिए ऐसी प्रतियोगिताएँ अत्यंत महत्वपूर्ण हैं। मर्सी फ़ोर एनिमल की जेनेरल काउन्सेल एवं वरिष्ठ उपाध्यक्ष - कार्यक्रम वंदना बाला ने पिछले महीने एक साक्षात्कार में कहा:

यद्यपि हम हर दिन तरक्की कर रहे हैं, लेकिन फ़ार्म्ड-पशुओं की स्थिति अभी भी निराशाजनक है। उन्हें सभी हर संभव समर्थन की जरूरत है। कई लोग जरूरतमंदो एवं असहायों की मदद के लिए विधि-विद्यालयों का रुख करते हैं। मुझे लगता है कि फ़ार्म्ड-पशु इस पृथ्वी पर सर्वाधिक पीड़ित एवं शोषित जीव हैं और उनके हित में उठने वाली हर एक आवाज मायने रखती है।

कानून के छात्रों को पशु-सुरक्षा कानूनों का ज्ञान एवं उनमें दक्षता प्राप्त करने में मदद कर हम वास्तव में दुनियाँ भर के पशुओं के लिए प्रभावशाली काम कर सकते हैं।


मर्सी फ़ोर एनिमल के कानूनी परामर्श सेवा के बारे में और जानने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

मर्सी फ़ोर एनिमल दुनियाँ भर के निःस्वार्थ विधि-वेत्ताओं के साथ कार्य करती है। आप भी शामिल होना चाहते हैं, तो यहाँ क्लिक कीजिए।
व्यंजनों, नए उत्पाद टिप्स, और बहुत कुछ के साथ सूचित रहें
और शाकाहारी समाचार