मृत्युजाल में फँसे शार्क और अन्य जलीय जीवों का क्षुब्धकारी वायरल फोटो
कैमन द्वीप के गोताखोरों ने वहाँ बेकार छोड़ दिए गये एक बड़े व्यवसायिक जाल में सैंकड़ों मृत जलीय जीवों को फँसा पाया। इन गोताखोरों द्वारा ली गयी तकलीफ़देह तस्वीरें इंटरनेट पर वायरल हो रही है।

यह "भूतिया जाल" कैरिबियन सागर में महीनों से फैला पड़ा है और इसके रास्ते में आने वाले हर किसी को फ़ँसा रहा है। वास्तव में, ये भयावह तस्वीरें लेने वाले गोताखोरों ने तो यहाँ तक बताया कि कुछ जीवों का शरीर तो इस प्रकार सड़-गल गया था कि उनकी प्रजाति पता लगाना भी मुश्किल था।

जाल का पता लगाने वाले गोताखोर डोमनिक मार्टिन-मेयस ने द इंडिपेन्डेन्ट को बताया:

सबसे पहले हमें लगा कि यह कोई कुत्ता है, लेकिन जैसे-जैसे हम निकट गये, हमने पाया कि यह प्रवाहमान वस्तुओं से भरा हुआ एक जाल है। मैं पहले पानी में कूद गया और जो देखा वह स्तब्धकारी था। मेरी साँसे अँटक गयी। सबसे पहली चीज जो मैंने देखा वह था एक सफेद समुद्री शिशु शार्क। मैंने अपने साथियों को चाकू लेकर कूदने को कहा। उसमें फँसे जीवित प्राणियों को बचाने के लिए हमसे जो कुछ हो सका हमने किया। लेकिन उनमें से अधिसंख्य पहले ही मर चुके थे।

विश्व पशु सुरक्षा की रिपोर्ट के मुताबिक 640,000 टन जाल हर साल समुद्र को प्रदूषित करते हैं। वर्ष 2016 में, अमेरिका-प्रशांत तट पर मछली पकड़ने के बाद बेकार छोड़ दिए गए जालों में 71 व्हेल मछलियों के फँसने के मामले प्रकाश में आये थे।

मनुष्यों द्वारा समुद्री जीवों को खाना अनगिनत शार्क, व्हेल, डौलफिन, समुद्री कछुआ, और सूँस के मरने का कारण है। द नेशनल जर्नल का अनुमान है कि व्यवसायिक मतस्यहरण में फँसे लगभग 20 प्रतिशत जलीय जीव बायकैच या अवांछित शिकार होते हैं।

मर्सी फ़ोर एनिमल द्वारा प्रस्तुत किए गये हालिया वीडियो फ़ुटेज सीलिगेसी, शार्कवाटर और टर्टल आयलैंड रेस्टोरेशन नेटवर्क में दृष्टिगोचर होता है कि किस प्रकार व्यवसायिक मत्स्यहरण के जाल में फँसकर डौलफिन, जलव्याघ्र और समुद्री पक्षी समेत अनेक जलीय जीव नियमित रूप से मृत्यु के शिकार होते हैं। जलीय जीवों के जाल में फ़ँसने, उन्हें काटे जाने, हुक से छेदे जाने या बाहर दम घुँटकर मरने के लिए फेंक दिए जाने की घटनाएँ वीडियो में रिकार्ड की गयी है।

आप स्वयं देख लीजिए:


क्रूर मतस्यहरण उद्योग से अपना समर्थन वापस लेने के लिए जो सर्वोत्तम काम हम कर सकते हैं वो यह कि हम अपनी थालियों से मछलियों को हटा दें और दयापूर्ण वनस्पति आधारित आहार अपनाएँ ।

शुरु करने के लिए तैय्यार हैं? यहाँ क्लिक कीजिए।
व्यंजनों, नए उत्पाद टिप्स, और बहुत कुछ के साथ सूचित रहें
और शाकाहारी समाचार