ये है पकड़े गये वन्य मछली की असली कीमत
क्या आपने कभी सोचा है कि आप जिस मछली को खाते हैं वह आपकी थाली में कैसे आती है?

इनमें से कई, मछली फ़ैक्ट्री-फ़ार्मों से आते हैं, जहाँ हालात इतनी भयानक होती है कि ये निरीह जीव गंभीर अवसाद से ग्रस्त होते हैं और सचमुच जीवन की आश छोड़, तंग एवं गंदे बाड़ों में पड़े रहते हैं। इसके अतिरिक्त, फ़िश फ़ैक्ट्री-फ़ार्म पर्यावरण और इनके आस-पास रहने वाले जानवरों के लिए भी एक गंभीर खतरा पैदा करते हैं।

जबकि कई लोग गलती से यह सोचते हैं कि वन्य मछली खाना ठीक है, लेकिन वे इस बात से अनजान हैं कि पकड़ी गई वन्य मछलियों को इसके लिए बेहद ऊंची कीमत चुकानी पड़ती है।

सबसे पहले तो हम अपने महासागरों को एक खतरनाक तेज दर के साथ कम कर रहे हैं। वास्तव में, वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि हमारे महासागर वर्ष 2048 तक मछलीविहीन हो जायेंगे। वह समय अभी से केवल 30 साल दूर हैं। हम में से कई तब भी दुनियाँ में होंगे।

हम हर साल भोजन के लिए न केवल अरबों मछलियों को मारते हैं, बल्कि इस प्रक्रिया में अनगिनत अन्य जानवरों को भी मार देते हैं। जिस प्रकार हम महासागरों से मतस्यहरण करते जा रहे हैं, जीवित रहने के लिए इन मछलियों पर निर्भर जानवरों की आबादी भी घट रही है।

उदाहरण के लिए, शेटलैंड द्वीप पर अटलांटिक पफिन जीवित रहने के लिए रेत ईल पर निर्भर करते हैं। रेत ईल खत्म हो जाने के बाद, पफिन की संख्या नाटकीय रूप से गिरी है। इसी तरह, जब हेरिंग खत्म होने के साथ ही तो कोड मछली की आबादी गिर जाती है।

चिनूक सैल्मन, जो गंभीर रूप से लुप्तप्राय हैं और 2015 से अधिक से अधिक मारी जाने वाली मछलियों की सूची में हैं, दक्षिणी निवासी ऑर्का (एक प्रकार की व्हेल मछली) के लिए मुख्य खाद्य स्रोत हैं। इन मछलियों के बिना, गर्भवती ओर्का को अपने संतान को पूर्ण अवधि में लाने के लिए आवश्यक पोषक तत्व नहीं मिलते हैं। प्रत्येक असफल गर्भावस्था दक्षिणी निवासी ओर्का आबादी के लिए विनाशकारी है, क्योंकि अब ये 80 व्हेल ही रह गये हैं।

यह तो सिर्फ शुरुआत है।

समुद्री भोजन बाजार के लिए अरबों मछली के अलावा मतस्यहरण उद्योग अनायास रूप से अनेक अन्य जलीय जीवों को भी मारता है जो इस उद्योग के घातक उपकरणों में फ़ँस कर मारे जाते हैं। व्हेल और डॉल्फिन संरक्षण के मुताबिक मछली पकड़ने के उपकरण और जाल में पकड़े जाने के परिणामस्वरूप 300,000 से अधिक व्हेल, डॉल्फ़िन और सूंस मर जाते हैं।

सेंटर फॉर बायोलॉजिकल डाइवर्सिटी के अधिवक्ता क्रिस्टन मॉन्सेल बताते हैं कि जब एक विशाल व्हेल मछली पकड़ने के जाल में फ़ँस जाता है तो कैसा लगता है:

कभी-कभी यह व्हेल तुरंत डूब सकता है, या कभी सप्ताहों लग सकते हैं। चूकि वे इतने थके हुए होते हैं कि अंततः थकावट से मर जाते हैं। अगर उपकरण उनके मुंह में है, तो यह उनके भोजन-मार्ग को बाधित करता है। यह उनकी पूंछ या शरीर के अन्य हिस्सों को काट सकता है। ये उपकरण अथवा जाल छोटी व्हेल के चारों ओर लपेटे हो सकते हैं, लेकिन व्हेल का आकार बढ़ने के साथ ही यह उनके शरीर को बेध कर मांस में तक चला जाता है।

प्रत्येक वर्ष अनुमानित 5 करोड़ शार्क अनजाने में पकड़े जाते हैं। यह संख्या मांस और पंखों के लिए प्रति वर्ष व्यवसायिक मतस्यहरण उद्योग द्वारा अनुमानित तौर पर पकड़े जाने वाले 10 करोड़ शार्कों की आधी है। एक विशेष रूप से दुर्लभ प्रजाति, बड़ा सफेद शार्क, अक्सर कैलिफोर्निया के तट पर लंबे जालों में फ़ँसकर मारे जाते हैं।

हाल ही में, केमैन द्वीपसमूह के पास गोताखोरों ने सैकड़ों जलीय जीवों को एक परित्यक्त वाणिज्यिक मत्स्यहरण जाल में फंसकर मरा पाया था, और उनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं थी। संभवतः महीनों तक यह "भूतिया जाल" कैरेबियन सागर में बहती हुई अपने रास्ते में लगभग हर किसी को फ़ाँसती और मारती जा रही थी।

मर्सी फॉर एनिमल, सागरगेसी, शार्कवाटर और टर्टल आइलैंड रीस्टोरेशन नेटवर्क द्वारा जारी किए गए नए वीडियो फुटेज से पता चलता है कि कैसे डॉल्फ़िन, जलव्याघ्र और समुद्री पक्षी सहित अनेक समुद्री जीव नियमित रूप से किस प्रकार वाणिज्यिक मतस्य उद्योग के जाल में फ़ँसकर मारे गए हैं। कैलिफ़ोर्निया के तट पर इन जीवों के काटे जाने, हुक से छेदे जाने और नाव से बाहर फ़ेंककर घुँटकर मर जाने के लिए छोड़ दिए जाने की घटनाएँ दर्ज़ की गयी थी। इन घटनाओं नें संयुक्त राज्य अमेरिका के तीन संयुक्त राज्य विधायकों इन जालों को प्रतिबंधित करने का प्रस्ताव लाने के लिए प्रेरित किया था।

आप स्वयं देख लीजिए।


सौभाग्य से, दुनियाँ दोनो स्थलीय एवं जलीय जीवों की दुर्दशा पर सजग हो रही है। यहां तक ​​कि जिन लोगों से हम कम से कम उम्मीद कर सकते हैं, वे भी अपने भोजन में वनस्पति आधारित विकल्पों को शामिल कर रहे हैं।

प्रगतिशील शाकाहारी कंपनियों और अनगिनत स्वादिष्ट समुद्री व्यंजनों के सौजन्य से, क्रूर मत्स्यहरण उद्योग से अपना समर्थन हटाने और करुणामय वनस्पतिक आहार अपनाना कभी इतना आसान नहीं था। शुरू करने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।
व्यंजनों, नए उत्पाद टिप्स, और बहुत कुछ के साथ सूचित रहें
और शाकाहारी समाचार